Breaking News

शाहजहॉपुर डीएम ने चैनी धान पर लगाया प्रतिबंध, पीलीभीत में भी रोक लगाने की उठी मांग

पीलीभीत। पराली सहित तमाम समस्याओं की जड़ में साठा धान है। इसे लगाने की जल्दी में ही गेहूं की नरई जलाई जाती है और साठा धान की फसल भी देर से कटने के कारण गेहूं की बुवाई की जल्दी में पराली निस्तारण की समस्या पैदा होती है। शाहजहांपुर के जिला अधिकारी ने साठा धान लगाने पर प्रतिबंध लगाते हुए एक आदेश जारी किया है। देखिए आदेश की प्रति-

पीलीभीत में भी साठा धान पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग काफी समय से उठाई जा रही है।भारतीय किसान यूनियन के नेता मनजीत सिंह ने समाचार दर्शन 24 को बताया कि पीलीभीत में भी साठा पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। इसके बाद पराली सहित सभी फसलों के अवशेषों के निस्तारण की समस्या स्वता समाप्त हो जाएगी। उन्होंने बताया कि वे काफी दिनों से साठा धान पर प्रतिबंध लगाने के लिए अधिकारियों के यहां चक्कर काट रहे हैं और हाईकोर्ट में भी जनहित याचिका दायर कर चुके हैं। उन्होंने शाहजहांपुर जिलाधिकारी के आदेश की सराहना की है। श्री सिंह ने पीलीभीत के जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव से इसी आदेश की तरह पीलीभीत में भी साठा पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी करने का अनुरोध किया है। 

Coming Soon
क्या यह खबर/ लेख आपको पसंद है ? कैसा है
क्या यह खबर/ लेख आपको पसंद है ? कैसा है
क्या यह खबर/ लेख आपको पसंद है ? कैसा है
Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बार्डर पर दिखेगी हरियाली : एसएसबी ने अभियान चलाकर गांवों में कराया पौधारोपण

🔊 Listen to this हजारा। थाना क्षेत्र के नेपाल बॉर्डर पर स्थित एसएसबी द्वारा पौधरोपण …