Breaking News

पूर्वोत्तर रेलवे 2000 करोड़ प्रति वर्ष के घाटे में : रेल महाप्रबंधक

बस्ती। बस्ती रेलवे स्टेशन के निरीक्षण के दौरान पूर्वोत्तर रेलवे के जीएम राजीव अग्रवाल ने कहा की पूर्वोत्तर रेलवे प्रतिवर्ष 2000 करोड़ के घाटे में चल रही है। उन्होंने कहा कि नार्थ रेलवे का खर्च 5500 करोड़ है जबकि आय 3500 करोड़ है। उन्होंने एक प्रश्न के जबाब में कहा कि निजीकरण किसी ट्रेन का नहीं हो रहा है। सिर्फ एक ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को इण्डियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन जो रेलवे का पीएसयू है उसको चलाने के लिए दिया है। उसी के तर्ज पर कुछ और ट्रेनों को देने की तैयारी चल रही है। इसके लिए चाहे पीएसयू आए या प्राइवेट आपरेटर आए जो चलाना चाहे वो चाहे अपनी ट्रेन भी ला सकता है, और रेल्वे से भी ले सकता है। इससे पब्लिक का फायदा होगा, अभी हमारा जो किराया है उसे हम बढ़ा नहीं पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि रेल के आय बढ़ाने के लिए काफी प्रयास किया जा रहा है जिससे भविष्य में यात्रियों को और भी सुविधाए रेल प्रशाशन उपलब्ध कराएगा। उन्होंने बताया कि आज इंडियन रेलवे की पैसेंजर सर्विस काफी घाटे में चल रही है।

@अमित सिंह 

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बार्डर पर दिखेगी हरियाली : एसएसबी ने अभियान चलाकर गांवों में कराया पौधारोपण

🔊 Listen to this हजारा। थाना क्षेत्र के नेपाल बॉर्डर पर स्थित एसएसबी द्वारा पौधरोपण …