♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

कृभको की संगोष्ठी में दी उन्नत खेती की जानकारी, रोग व कीट प्रबंधन भी समझाया

पीलीभीत। कृभको पीलीभीत द्वारा दिनांक 2.01.2022 दिन रविवार को एक वृहद फसल संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन एल.एच.एस.एफ शुगर मिल फार्म कलीनगर पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  जितेन्द्र कुमार मिश्र जिला गन्ना अधिकारी पीलीभीत थे।
उपरोक्त फसल संगोष्ठी कार्यक्रम में निम्नवत बिन्दुओं पर वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक कृभको शाहजहाँपुर, जिला गन्ना अधिकारी पीलीभीत, गन्ना विकास परिषद शाहजहाँपुर एवं कृषि विज्ञान केन्द्र आई.वी.आर.आई बरेली से आये कृषि वैज्ञानिकों व अन्य लोगो ने जानकारी दी।


●कृभको के विभिन्न उत्कृष्ट उत्पादों के विषय पर ।
●कृभको पीलीभीत द्वारा जनपद पर आयोजित किये जा रहे प्रोन्नत कार्यक्रमो के विषय पर ।
●गन्ना की उन्नत प्रजातियों एवं उनमें होने वाले रोग एवं कीट प्रबंधनके बिषय पर ।
● सन्तुलित उर्वरक का प्रयोग, मृदा परीक्षण एवं मृदा स्वास्थ्य कार्ड ।
●फर्टिलाइजर डी•बी•टी।
●गेहूं,एवं सरसों की उन्नत खेती
●पशुपालन, एवं उनके भोजन मे नैपियर घास के महत्व पर।
●कृषकों की आय बढाने पर मिश्रित खेती का महत्व ।
●फसल चक्र व हरी खाद के महत्व के विषय पर
एवम अन्य प्रमुख बिषयो पर विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया ।

इस अवसर पर डाँक्टर राजीव सिंह वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक कृभको शाहजहाँपुर ।
श्री के•बी शर्मा जी•एम एल•एच •एस •एफ शुगल मील पीलीभीत
डाॅ राकेश पाण्डेय कृषि वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र आई •वी•आर•आई बरेली ।
डाॅ एन•के सिंह कृषि वैज्ञानिक आई•वी•आर•आई बरेली ।
डाॅ एस•पी यादव अध्यक्ष शस्य वैज्ञानिक गन्ना विकास परिषद शाहजहाँपुर ।
डाॅ पी•के कपिल सहायक निदेशक गन्ना विकास परिषद शाहजहाँपुर ।
गन्ना समिति पीलीभीत एवं पूरनपुर समिति के सचिव ।
सूरज शुक्ला क्षेत्रीय प्रतिनिधि कृभको बरेली ।
विकाश सिंह क्षेत्रीय प्रतिनिधि कृभको पीलीभीत ।
डी सी शुक्ला विक्रय अधिकारी कृषक भारती सेवा केन्द्र पूरनपुर सहित सहित भारी संख्या में कृषकों ने कार्यक्रम में प्रतिभाग किया ।अन्त मे सभी अतिथियो एव आये हुए कृषकों को धन्यवाद प्रकट कर कार्यक्रम का समापन किया गया ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

क्या भविष्य में ऑनलाइन वोटिंग बेहतर विकल्प हो?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809666000