♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

सिपाहियों ने कवरेज कर रहे मीडियाकर्मी से की अभद्रता, अब रस्सी का सांप बनाकर फंसाने की तैयारी, विरोध में हुआ प्रदर्शन

पत्रकारों ने कोतवाली परिसर में पुलिस के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

पत्रकार के साथ हुई अभद्रता मामले में 3 दिन बाद भी नहीं हुई पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई

पत्रकारों में रोष व्याप्त, निलंबन तक जारी रहेगा विरोध, काली पट्टी बांधकर जाहिर किया विरोध

पीलीभीत। पूरनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कवरेज के दौरान मीडिया कर्मी के साथ बदसलूकी को लेकर मामला तूल पकड़ रहा है और सोशल मीडिया पर पत्रकारों में आक्रोश के साथ रोष देखा जा रहा है। पूरनपुर में कार्यरत मीडिया कर्मी नाजिम खान के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 18 मार्च को रात्रि लगभग 9 बजे सादा वर्दी व हाथो मे डंडे लेकर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने पत्रकार के साथ अभद्रता की। अभ्रदता करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ उप जिलाधिकारी ऋषि कांत राजवंशी को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई के लिए लिखा गया है। मीडिया कर्मी के साथ हुई दुर्व्यवहार की घटना को लेकर एसडीएम ऋषि कांत राजवंशी ने सीओ वीरेंद्र विक्रम से फोन पर बात करते हुए आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए थे। सीएचसी पूरनपुर में दो पक्षों में मारपीट होने पर कवरेज कर रहे नाजिम खान के साथ सादा वर्दी में पहुंचे पुलिस वालों ने अभद्रता करते हुए कोतवाली लेकर गए और उसके बाद जबरन वीडियो डिलीट की। रात्रि की घटना को लेकर पत्रकारों में भारी आक्रोश फैला हुआ है और इस संबंध में स्थानीय दोनों वरिष्ठ अधिकारियों को प्रार्थना पत्र देकर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। घटना को लेकर रविवार को पत्रकारों ने पुलिस क्षेत्राधिकारी वीरेंद्र विक्रम से भी मुलाकात करते हुए दोषी पुलिस वालों के निलंबन की मांग की है। पत्रकार के साथ हुई अभद्रता मामले में पत्रकारों ने सीओ से मिलकर कार्रवाई न करने व झूठे मुकदमों में पत्रकार को जेल भेजने के दबाव बनाने मामले मे काली पट्टी बाधकर पत्रकारों ने पूरनपुर कोतवाली में किया पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन।

इस लिंक से देखें विरोध प्रदर्शन व सुनें पीड़ित पत्रकार की बात-

https://youtu.be/P4qfJOpHpE8

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

क्या भविष्य में ऑनलाइन वोटिंग बेहतर विकल्प हो?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809666000