♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

पीलीभीत को 248 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात, सीएम ने की चूका की सैर

 मुख्यमंत्री ने सेल्फी प्वांइट का किया अनावरण।

पीलीभीत टाईगर रिजर्व के आसपास के ग्रामों में कराई तार फेसिंग-सीएम

 मुख्यमंत्री ने वृक्षारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

पीलीभीत। मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने मुस्तफाबाद गेस्ट हाउस पंहुच कर वन्य जीव संरक्षण और सतत इको पर्यटन विकास कार्याशाला का शुभारम्भ किया। उन्होंने सेल्फी प्वांइट का अनावरण एवं वृक्षारोपण किया, साथ ही मुख्यमंत्री ने वन्य जीव प्रदर्शनी का भ्रमण कर वन्य जीवों का अवलोकन किया।
इसके साथ पूरनपुर विधायक बाबूराम पासवान द्वारा मुख्यमंत्री जी के जनपद आगमन पर स्वागत किया।  राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) वन पर्यावरण अरूण कुमार सक्सेना ने मुख्यमंत्री को टाईगर रिजर्व पीलीभीत का प्रतीक चिन्ह भेंट किया। राज्यमंत्री वन पर्यावरण के0पी0 मलिक ने मुख्यमंत्री को जनपद की पहचान बाॅसुरी भेंट की।
 मुख्यमंत्री जी ने वन्य जीव संरक्षण और सतत इको पर्यटन विकास कार्याशाला में 248 करोड़ की 26 परियोजनाओं एवं 05 करोड़ के 51 उच्चीकृत वन विश्राम भवनों का लोकार्पण/शिलान्यास बटन दबाकर किया। मुख्यमंत्री ने सारस गणना रिपोर्ट 2023 रिलीज पुस्तक एवं डब्लू.डब्लू.एफ. इण्डिया एवं उत्तर प्रदेश वन विभाग द्वारा संकलित लग्गा-बग्गा काॅरिडोर पुस्तक का विमोचन किया। वृक्षारोपण जन अभियान 2023 के काॅफी टेबुल पुस्तक का विमोचन किया। पीलीभीत टाईगर रिजर्व को प्राप्त कैटस अवार्ड से सम्मानित किया। तराई ऐलीफेन्ट रिजर्व के (लोगो एवं स्क्रीन) का विमोचन किया। मुख्य अतिथि ने हर्षित सरकार व निपुण वैरागी को शहद किट का सांकेतिक प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इसके साथ मुख्यमंत्री जी ने बाघो की सुरक्षा, बाघ मित्र ऐप का शुभारम्भ एवं टाईगर रिजर्व के उत्कृष्ट कार्य करने वाले बाघ मित्रों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। वन्यजीव सुरक्षा एवं संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।
 मुख्यमंत्री जी ने अपने सम्बोधन में सभी को सम्बोधित करते हुये कहा कि जनपद पीलीभीत प्रकृति की गोद में बसा हुआ है। उन्हांेने कहा कि विकास कार्यक्रमों में समय समय पर  जनप्रतिनिधियों एवं लोगों द्वारा प्रतिभाग किया जाता है। उन्होंने कहा कि माह अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में वन्य जीव सप्ताह मनाया जाता है, साथ ही कहा कि वन्य जीव एवं जन्तु व वन संरक्षण की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी है।

 

उन्होंने कहा कि डब्लू.डब्लू.एफ. रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2022 के अनुसार टाईगर रिजर्व में बाघो की संख्या में दोगुना वृद्वि हुई है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में पिछले छः वर्षों में 167 करोड़ पौधों का रोपण किया गया है। जिससे की वातावरण प्रदूषण मुक्त रहेगा, साथ ही कहा कि जनपद में ईको टूरिज्म/पर्यटन को बढ़ावा दिया जाये और जंगल से सटे ग्रामों में युवाओं को वन्य जीव के संरक्षण हेतु प्रशिक्षण दिया जाये, जिससे कि जनपद में आने वाले पर्यटकों को जंगल सफारी कराने में मदद करने हेतु गाईड के पद पर रोजगार दिया जा सके। सीएम ने अपने उदबोधन में कहा कि जंगल से सटे ग्रामों में सोलर फेसिंग कराई जाये, जिससे की जनहानि एवं पालतू मवेशियों को सुरक्षा प्रदान की जा सके।
 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन में शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क से सम्बन्धित परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्याā∞स किया गया जिससे कि जनपद पीलीभीत के वासी लाभान्वित होगें। इसके साथ ही आज गंगे डाल्फिन को जलीय जीव-जन्तु के रूप में मान्यता मिली, जिससे जल को शुद्व करने में सहायता मिलेगी।
कार्यक्रम के अन्त में मा0 राज्यमंत्री वन पर्यावरण श्री के0पी0 मलिक ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
कार्यक्रम के पश्चात मा0 मुख्यमंत्री जी ने चूका स्पाॅट, जंगल सफारी भी की, इस दौरान उन्होंने प्राकृतिक के सौन्दर्य को देखा।
कार्यक्रम के दौरान कृृषि मंत्री बलदेव सिंह औलख, राज्यमंत्री गन्ना विकास एवं चीनी मिलें, उ0प्र0 संजय सिंह गंगवार, जिलाध्यक्ष भाजपा संजीव प्रताप सिंह,  एमएलसी पीलीभीत-शाहजहाॅपुर डा0 सुधीर गुप्ता, विधायक बरखेड़ा  जयद्रथ उर्फ स्वामी प्रवक्तानन्द, विधायक बीसलपुर  विवेक कुमार वर्मा,  विधायक पूरनपुर  बाबूराम पासवान, पूर्व मंत्री डॉक्टर विनोद तिवारी, प्रमुख सचिव गृह/सूचना संजय प्रसाद, मण्डलायुक्त सौम्या अग्रवाल, पुलिस महानिरीक्षक डाॅ0 राकेश सिंह, जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण उपस्थित रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

क्या भविष्य में ऑनलाइन वोटिंग बेहतर विकल्प हो?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809666000