♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

टीएमयू की डीन प्रो. मंजुला जैन इंडिया की टॉप एजुकेशनल लीडर

बड़ी उपलब्धिः तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद की डीन एकेडमिक्स प्रो. मंजुला जैन देश की अंग्रेजी बिजनेस पत्रिका ट्रेडफ्लॉक में बतौर कवर स्टोरी कवरेज , 10 मोस्ट इंस्पायरिंग वुमन लीडर्स इन एजुकेशन इन इंडिया-2023 की सूची में शामिल

2023 के अलविदा होते-होते तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद की झोली में एक और बड़ी उपलब्धि आई है। टीएमयू की डीन एकेडमिक्स प्रो. मंजुला जैन को देश की जानी-मानी अंग्रेजी बिजनेस पत्रिका ट्रेडफ्लॉक ने 10 मोस्ट इंस्पायरिंग वुमन लीडर्स इन एजुकेशन इन इंडिया-2023 की सूची में शामिल किया है। प्रो. मंजुला को स्टुडेंट्स के लर्निंग एक्सपीरियंस में सुधार, इन्नोवेटिव टीचिंग मेथड और प्रोग्राम्स, यूनिवर्सिटी की वैश्विक और राष्ट्रीय रैंकिंग और प्रतिष्ठा को बढ़ाने, स्टुडेंट्स को परामर्श की सुविधा प्रदान करने, एकेडमिक एक्सीलेंस, रिसर्च एंड स्टुडेंट्स आउटकम्स के लिए उनके विज़न के लिए यह सम्मान दिया गया है। अंग्रेजी की इस बिजनेस पत्रिका में प्रो. जैन को फ्रंट पेज पर कवर स्टोरी के लिए चुना गया है । यह रिकॉग्निशन उनके अथक समर्पण और शैक्षिक उत्कृष्टता का प्रतिफल है। यह सम्मान यूनिवर्सिटी को न केवल नई पहचान देगा,बल्कि टीएमयू की विकास यात्रा में मील का पत्थर साबित होगा। टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन, जीवीसी श्री मनीष जैन और एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर श्री अक्षत जैन बोले, टीएमयू के लिए यह गौरव के पल हैं। उन्होंने उम्मीद जताई, डीन एकेडमिक्स के नेतृत्व में यूनिवर्सिटी भविष्य में और भी नई उपलब्धियां हासिल करेगी। उन्होंने उनके स्वर्णिम भविष्य की कामना करते हुए हार्दिक बधाई दी।

यह सम्मान मिलने के बाद प्रो. जैन कहती हैं, डीन एकेडमिक्स के रूप में इन्नोवेटिव प्रोग्राम्स विकसित करना, रिसर्च को बढ़ावा देकर एंटरप्रोनियरशिप आधारित स्टुडेंट सेंटरिक वातावरण को बढ़ावा देना मेरा उद्देश्य है। ग्लोबल एक्सपोजर, इंटरर्नशिप के लिए इंटस्ट्री संबंध, हॉलिस्टिक एजुकेशन और एकेडमिक एक्सीलेंस के प्रति स्टुडेंट्स और कलीग दोनों को प्रेरित करने के लिए क्रिटिकल थिंकिंग और एथिकल वैल्यू पर जोर देना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल है। टीएमयू के वीसी प्रो. रघुवीर सिंह और रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा ने भी प्रो. मंजुला जैन को इस सम्मान के लिए हार्दिक बधाई दी है। उल्लेखनीय है, मैनेजमेंट में पीएचडी डॉ. जैन को 24 साल का लंबा शैक्षणिक अनुभव है। करीब 20 से अधिक विदेश यात्राओं के संग-संग दर्जनों अवार्ड भी झोली में हैं। टीएमयू के आईआईसी की प्रेसिडेंट डॉ. जैन के लगभग 60 से अधिक नेशनल और इंटरनेशनल शोधपत्र और पेटेंट्स नाम हैं। इनके अलावा एआईसीटीई, यूजीसी के संग-संग फॉरेन यूनिवर्सिटीज़ के सहयोग से एफडीपी और वर्कशॉप के आयोजन के अलावा इनमें शिरकत भी कर चुकी हैं। एनईपी-2020 के क्रियान्वयन में आपका महत्वपूर्ण रोल है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

क्या भविष्य में ऑनलाइन वोटिंग बेहतर विकल्प हो?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809666000